Uncategorized

ऑक्सफोर्ड के वैक्सीन के ट्रायल्स थमने के बाद भी एस्ट्राजेनेका का दावा- इसी साल आएगा वैक्सीन

नई दिल्ली। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका के कोविड-19 वैक्सीन के क्लिनिकल ट्रायल्स के दौरान एक वॉलेंटियर की तबियत खराब होने की जांच एक्सपर्ट्स के एक ग्रुप ने शुरू कर दी है। भले ही इस घटनाक्रम ने वैक्सीन की स्पीड को धीमा कर दिया हो, वैज्ञानिक इसे अच्छा मान रहे हैं।

हालांकि, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा है कि इस घटना से हताश या निराश होने की जरूरत नहीं है। वैक्सीन के ट्रायल्स में ऐसा होता रहता है। इस बीच, ऑक्सफोर्ड के वैक्सीन के भारत में चल रहे ट्रायल्स सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया ने रोक दिए हैं।

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका की ओर से विकसित वैक्सीन कोवीशील्ड का भारत में फेज-2 और फेज-3 का कम्बाइंड ट्रायल्स चल रहा है। यह करने वाली सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया ने भारत में भी ट्रायल्स रोक दिए हैं। भारत में अब तक 100 वॉलेंटियर्स को ट्रायल्स के तहत यह वैक्सीन लगाया गया है। यह ट्रायल पूरा करने के लिए करीब 1,600 वॉलेंटियर्स को एनरोल करने की योजना है। इस बीच, भारत के ड्रग रेगुलेटर ने सीरम इंस्टिट्यूट को कारण बताओ नोटिस भेजा है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close