छत्तीसगढ़पॉलिटिक्सब्रेकिंग न्यूज़

बिलासपुर के इस पंचायत के विभाजन को लेकर अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठे युवा…जानिए पूरा मामला

बिलासपुर। सदर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत कुठेड़ा पंचायत के विभाजन की मांग पूरी न होने से खफा लोगों ने संघर्ष का बिगुल बजा दिया है। गत 2 अक्टूबर को ग्रामीणों ने रोष रैली निकालकर प्रदर्शन किया था। अब पंचायत के कुछ युवा अनशन पर बैठ गए हैं। उधर, जिला कांग्रेस कमेटी ने युवाओं के आंदोलन का समर्थन किया है। कांग्रेस ने कहा है कि सरकार को ग्रामीणों की जायज मांग पूरी करनी चाहिए, अन्यथा उसे खामियाजा भुगतना पड़ेगा।

लगभग 5 हजार की आबादी वाली कुठेड़ा पंचायत में मतदाताओं की संख्या करीब 3600 है। जनसंख्या और क्षेत्रफल के लिहाजा से बड़ी पंचायत होने के बावजूद इसका विभाजन नहीं किया जा रहा है। पंचायत की ओर से कई बार प्रस्ताव पारित कर सरकार को भेजे जा चुके हैं, लेकिन स्थिति जस की तस है। इस मांग को लेकर पंचायत के युवा आशीष मेहता, गौरव ठाकुर, साहिल मेहता व विनय गत शुक्रवार से मसौर मोड़ के पास अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठ गए हैं।

युवाओं ने कहा कि आबादी और क्षेत्रफल के लिहाज से बड़ी पंचायतों में विकास कार्य करवाने में कई समस्याएं आड़े आती हैं। दूरदराज स्थित गांवों के लोगों को लंबी दूरी तय करके पंचायत पहंुचना पड़ता है। इसी के मद्देनजर कुठेड़ा पंचायत के विभाजन की मांग लंबे अरसे से उठाई जा रही है, लेकिन न जाने किस वजह से उसे नजरअंदाज किया जा रहा है। ऐसे में उन्हें मजबूरन आंदोलन का सहारा लेना पड़ा है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close