छत्तीसगढ़पॉलिटिक्सब्रेकिंग न्यूज़

मरवाही उपचुनाव से पहले भाजपा के दो पूर्व विधायकों ने थामा कांग्रेस का हाथ

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के मरवाही उपचुनाव से पहले बीजेपी को बड़ा झटका लगा है। विधानसभा चुनाव में बीजेपी के विधायक प्रत्याशी रही अर्चना पोर्ते ने कांग्रेस का हाथ थाम लिया है। अर्चना पोर्ते के साथ ध्यान सिंह पोर्ते भी कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। 2018 में अर्चना पोर्ते बीजेपी प्रत्याशी के रूप में पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के खिलाफ चुनाव लड़ चुकी हैं और वे दूसरे नंबर पर भी रही हैं। इससे पहले ध्यान सिंह पोर्ते भी 2008 में बीजेपी के प्रत्याशी रह चुके हैं।

अर्चना पोर्ते और ध्यान सिंह पोर्ते गौरेला-पेंड्रा-मरवाही के प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल, कांग्रेस के संगठन प्रभारी अटल श्रीवास्तव, प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता आरपी सिंह की मौजूदगी में सामने कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। कांग्रेस के उम्मीदवार केके ध्रुव ने आज ही उपचुनाव के लिए नामांकन भी भरा है।

कांग्रेस में शामिल होने के बाद अर्चना पोर्ते ने बीजेपी और अमित जोगी पर निशाना भी साधा है। अर्चना पोर्ते ने नाम लिए बिना जोगी परिवार पर हमला बोलते हुए कहा कि कुछ लोग 20 साल से आदिवासियों का हक और अधिकार छीनकर बैठे हैं। खुद को आदिवासी कहते हैं, लेकिन 20 साल से मरवाही के आदिवासियों के लिए कुछ नहीं किया है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close