छत्तीसगढ़बड़ी खबर

शहीद जवान हेमंत पोया का शव आज पहुंचेगा गृह ग्राम, दी जाएगी अंतिम विदाई

कसालपाड में हुई मुठभेड़ में शहीद हुए थे दोनों जांबाज जवान

 

पाखंजुर से बिप्लब कुण्डू की रिपोर्ट-

पखांजुर। 21 मार्च को सुकमा (Sukma)  में हुए नक्सली हमले में शहीद हेमंत पोया ( Martyr Hemant poya) और हेमंत मानिकपुरी ( Martyr Hemant Manikpuri ) का शव सोमवार को उनके गृह ग्राम में पहुंचाया जाएगा। जहां उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

सुकमा में हुए बड़े नक्सली हमले (Naxal attack)  में शहीद हुए जवान हेमंत पोया का पार्थिव शरीर सोमवार दोपहर कांकेर पहुंचेगा। उसके बाद उनके गृह ग्राम डंवरखार में सलामी के बाद उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।.

21 मार्च को सुकमा में हुए नक्सली हमले में 17 जवान शहीद हो गए थे, जिसमें सरोना क्षेत्र के ग्राम डंवरखार के हेमंत पोया भी शामिल हैं।. हेमंत STF के जवान थे। हेमंत की मई 2019 में ही शादी हुई थी। हेमंत की शहादत की खबर मिलते ही पूरे गांव में मातम पसर गया है। उनके परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. सोमवार दोपहर तक हेमंत का शव कांकेर लाया जाएगा।

चारामा का लाल भी हुआ शहीद

जिले के चारामा में रहने वाले हेमंत मानिकपुरी भी इस हमले में शहीद हो गए हैं। हेमंत मूलरूप से कोंडागांव जिले में बेन्द्री गांव के रहने वाले थे. हेमंत का अंतिम संस्कार (The Last Sacrament )  कोंडागांव जिले के बेन्द्री गांव में किया जाएगा।हेमंत का बचपन चारामा में ही बीता है, उनके पिता चारामा में शासकीय सेवक हैं।

 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close