छत्तीसगढ़बड़ी खबरहेल्थ

” लीगाकॉन 2020″ : अस्पताल प्रबंधन की कानूनी अड़चनों पर 350 डॉक्टर्स ने दिए सुझाव

सुरक्षा और कानूनी सावधानियों के नाम रहा स़त्र, रायपुर के सीनियर चिकित्सकों ने रखी अपनी राय

रायपुर । रविवार को जेल रोड स्थित होटल सेलिब्रेशन में ” लीगाकॉन 2020″ (Legacon 2020) का आयोजन हुआ। इसमें पूरे देश से 350 विशेषज्ञ चिकित्सकों ने हिस्सा लिया। ” लीगाकॉन 2020″ (Legacon 2020) में विशेषज्ञ चिकित्सकों ने मेडिकल एवं अस्पताल प्रबंधन क्षेत्र की कानूनी प्रक्रियाओं (legal aspects,) से और संबंधित कानूनी सावधानियों (legal precautions)  पर तमाम जानकारियों को साझा किया गया। ये जानकारी कॉन्फ्रेंस के चेयरमैन डॉ ललित शाह और सचिव डॉ आशा जैन ने दी। उन्होंने बताया कि इस आयोजन में डॉक्टर सुनील जोशी पालनपुर गुजरात ,डॉक्टर नीरज नागपाल चंडीगढ़ ,डॉ रविंद्र सबनीस ,डॉ अजय कुमार पटना डॉक्टर संदीप दवे ने भाग लिया।

" लीगाकॉन 2020" : अस्पताल प्रबंधन की कानूनी अड़चनों और उनके समाधान पर 350 डॉक्टर्स ने दिए सुझाव
” लीगाकॉन 2020″ : अस्पताल प्रबंधन की कानूनी अड़चनों और उनके समाधान पर 350 डॉक्टर्स ने दिए सुझाव

किन- किन समस्याओं पर हुई चर्चा:

इसमें अतिथि वक्ताओं ने अलग-अलग कानूनी विषयों जैसे ऑपरेशन थिएटर में मरीज की आकस्मिक मृत्यु (death of patients) , डॉक्टर्स के मेडिकल रिकॉर्ड और कागजी दस्तावेजों के रखरखाव (keeping documents safe)  की जानकारी साझा की। तो वहीं ऑपरेशन के दौरान होने वाली असावधा​नियों और उनसे बचाव एवं डॉक्टर और हॉस्पिटल प्रबंधन की कानूनी और नैतिक जिम्मेदा​रियों पर बात की। डॉक्टर संदीप दवे ने मरीज के इलाज के दौरान उत्पन्न अप्रिय स्थिति और अपने अनुभवों को साझा किया।

पत्रिका का भी हुआ विमोचन:

इस समारोह में डॉ ललित शाह की ओर से संपादित कानूनी विषयों पर पत्रिका का विमोचन भी किया गया है । इन सभी सत्रों के बाद उपस्थित डॉक्टर प्रतिनिधियों के जिज्ञासाओं के बारे में भी तकनीकी पहलुओं से सभी अतिथि वक्ताओं ने प्रतिनिधियों को अपने अनुभव से अवगत कराया।

अब आगे क्या:

दोपहर बाद के सत्र में पीसीपीएनडीटी जन्म पूर्व लिंग निर्धारण कानून की बारीकियों, मेडिकल काउंसिल अधिनियम के नैतिक पहलू और कानूनी अनुभवों एवं चिकित्सा परिसरों में तोड़फोड़, हिंसा और भीड़ का आक्रमण विषय के बारे में विशेष सत्र शुरू होगा। कांफ्रेंस में छत्तीसगढ़ के सभी विधाओं और सभी जिलों के 350 डॉक्टरों ने भाग लिया।

छत्तीसगढ के इन डॉक्टर्स ने लिया हिस्सा:

कॉन्फ्रेंस में विशेष रूप से एम्स रायपुर के डायरेक्टर डॉ नितिन नागरकर, आईएमए छत्तीसगढ़ के नवनिर्वाचित अध्यक्ष डॉ महेश सिन्हा, मुख्य जिला एवं चिकित्सा अधिकारी डॉ मीरा बघेल, हॉस्पिटल बोर्ड के अध्यक्ष डॉ राकेश गुप्ता, डॉ प्रशांत भागवत, डॉ वैभव जैन, डॉक्टर विकास अग्रवाल, डॉ राजेश शर्मा डॉ अलका गुप्ता ,डॉ अशोक त्रिपाठी, डॉक्टर कमलेश अग्रवाल, डॉ सुभाष अग्रवाल और डॉ अनिल जैन उपस्थित थे। मेडिकल क्षेत्र के कानूनी पहलुओं से संबंधित या सत्र आज शाम 5:00 बजे तक चलेगा। मंच का संचालन डॉक्टर तबस्सुम दल्ला ने किया।

 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close